सेक्सी गर्लफ्रेंड की चूत की चुदाई का मजासेक्सी गर्लफ्रेंडसेक्सी गर्लफ्रेंड की चूत की चुदाई का मजा

Xxx कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक लड़की मेरे दोस्त पर लट्टू हो गयी. दोनों की दोस्ती भी हो गयी थी. पर मेरे दोस्त को वह पसंद नहीं थी. उसने मुझसे मदद मांगी.

नमस्कार दोस्तो,

मेरी हाइट 5’9″ इंच है.
मैं दिखने में स्लिम सिंपल हूं.

मैं अन्तर्वासना को काफी टाइम से पढ़ रहा हूं. मॉर्निंग में एक या दो स्टोरी तो पढ़ता ही हूं.

अभी ज्यादा बात न करते हुए सीधे Xxx कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी पर आते हैं.

बात तब की है जब मैं अहमबाद के एक कॉलेज में पढ़ाई करता था.
उस वक्त मेरा एक दोस्त था जिसका नाम अजय था.

अजय की एक फ्रेंड थी जो उसे एक शादी में मिली थी और वो अजय पर लट्टू हो गई थी.
उसने अजय को अपना ब्वॉयफ्रेंड बना लिया था.

लेकिन अजय को वो उतनी पसंद नहीं थी।

एक रात को मैं सिगरेट पीने उठा.
मैंने देखा कि अजय किसी से चिल्ला चिल्ला कर बात कर रहा था.

मैं एक साइड होकर स्मोक करने लगा और जब उसकी बात ख़त्म हुई तब उसने मुझे देखा और मेरे पास आया.

मुझे वह गुस्से और टेंशन में लगा।
तो मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?

इस पर उसने बोला- भाई एक लड़की है जो मेरे पीछे पड़ी है. पिछले 6 महीने से वो मेरे साथ सेट होना चाहती है.

अजय की बात सुनकर मैंने कहा- तो इसमें क्या दिक्कत है? कर ले सेट, ले ले मजे!

इस पर उसने मुझे बोला- भाई सेट तो कर लूं। लेकिन मैंने उसे हां कह दिया तो वह शादी करने के चक्कर में पड़ जाएगी.

उसकी बात सुनकर मैं बोला- तो कर लेना शादी. दिखने में अच्छी नहीं है क्या?
तो उसने बोला- दिखने में तो अच्छी है, पर मेरे से बड़ी है.

मैं बोला- उसमें क्या है भाई … आजकल तो लोग अपने से बड़ी उम्र में भी शादी कर लेते हैं.

अजय ने कहा- नहीं यार, अगर मैंने हां कह दी और फिर शादी नहीं की तो वह मुझे मारने की धमकी दे रही है. फिर मेरे घर वालों की क्या हालत होगी. इन सब वजहों से मैंने उसे मना कर दिया है। लेकिन वो मान नहीं रही है. उसे कुछ भी करके मेरे साथ रिलेशनशिप में आना है.

मैंने कहा कि फिर उसका नंबर ब्लॉक कर दे.

अजय ने कहा- नहीं कर सकता … अगर उसने कुछ कर लिया तो?

मैं बोला- भाई, आज आराम कर, रात बहुत हो गई. इस बारे में कल बात करते हैं.
इस पर वह बोला- भाई कुछ भी कर मगर मुझे इस समस्या से निकाल!
मैं बोला- भाई करते हैं कुछ जुगाड़!

फिर ऐसे ही 2 सप्ताह निकल गए.

इस बीच हम दोनों लोगों को एक शादी में जाना था.
उस शादी में हमारे रूममेट्स भी आए थे।

हम सबने शादी में खूब इंजॉय किया.
इसके बाद सब अपने अपने घर चले गए.

मैं भी अपने घर जाने को निकला।
तो अजय ने याद दिलाया- भाई, उस गर्लफ्रेंड वाली समस्या का क्या करना है?

मैं बोला- एक काम कर सकते हैं लेकिन … इसके लिए तुझे मैं जैसा कहूंगा, वैसा करना होगा.
अजय ने सिर हिलाया और बोला- ठीक है.

मैंने कहा- उस लड़की को फोन कर और उससे प्यार से बात करना.

अजय ने ऐसा ही किया।
उसने लड़की को कॉल मिलाया और प्यार से बात किया और कहा- मेरा ये नंबर बंद होने वाला है. तुम मुझे इस पर कॉल मत करना. मैं तुम्हें अपना दूसरा नंबर दे रहा हूं.

अजय के इतने प्यार से बात करने की वजह से उस लड़की को लगा कि अजय उससे सेट हो गया है.

लेकिन हमारा प्लान तो अब शुरू हुआ था.

यहाँ मैं बता दूं कि उस लड़की का नाम रिया था.
अजय ने रिया को मेरा नंबर दे दिया.

फिर हम लोग अहमदाबाद आ गए.

इसके बाद जब रिया मेरे नंबर कॉल करे तो मैं उसके नंबर को नहीं उठाता था.

दोस्तो, आपको बता दूं कि उस वक्त वाट्सऐप चलन में नहीं था.
लोग कॉल और मैसेज से बात किया करते थे.

उसके लगातार कॉल करने पर मैंने उसे मैसेज किया और कहा- अभी बिजी हूं, रात में बात करता हूं.

बता दूं कि वह अपने परिवार के साथ रहती थी तो रात को कॉल नहीं कर सकती थी.

ऐसे ही कुछ वक्त बीत गया और धीरे-धीरे हमारी बात मैसेज के जरिए होने लगी.

रिया को लगा कि उसकी बात अजय से हो रही है.
मगर बात तो मैं उससे कर रहा था.

फिर एक दिन मैंने रिया को कॉल किया.
काफी लंबे समय से रिया की बात अजय से नहीं हुई थी तो वह मेरी आवाज को नहीं पहचान पाई.

पहले तो मैंने रिया से थोड़ी बातें की ताकि उसे मुझ पर शक न हो.
इसके बाद जब मैं कंफर्म हो गया कि अब सबकुछ ठीक है तो मैंने बातों का सिलसिला बढ़ा दिया.

अब हमारी बातें काफी देरी तक होती थी.
बातें करते करते हम घंटों सेक्स के बारे में भी बात करते थे.
हम रोज रात को सेक्स की बातें करते थे.

इस तरह 3 महीने निकल गए.

फिर एक दिन मैंने उसे पूरा सच बता दिया.
सच को सुनते ही उसके पांव से जमीन निकल गई.

कुछ दिन तक उसने मुझसे बात नहीं की लेकिन फिर कुछ वक्त बाद मेरे पास उसका कॉल आया.
शायद अब वह मुझसे घुलमिल गई थी तो उसे ज्यादा फर्क नहीं पड़ा क्योंकि अब रिया मेरे दोस्त को भूल गई थी.

थोड़ी नाराजगी के बाद एक बार फिर से हमारी बातें शुरू हुई.
हम ज्यादातर सेक्स की बातें करते थे.

फोन सेक्स में हर रोज मैं उसे नंगी कर देता था और उसकी चूत में अपने नाम की उंगली करवाता था.
मैं भी उसके नाम पर मुठ मारता था.

मैंने उसे बताया कि मैं उसे पसंद करता हूं.
उसने पूछा- सच्चा प्यार करते हो?
मैंने कहा- हां!

फिर एक दो दिन के बाद मैंने उसे प्रपोज कर दिया और उसने हां बोल दिया.
अब रिया मेरी गर्लफ्रेंड बन गई थी.

मैंने यह बात अजय को बोला कि रिया मेरे से सेट हो गई है.
इस पर उसने बोला- भाई, क्यों उड़ता तीर ले रहा है.
मैंने बोला कि मैं संभाल लूंगा.

फिर एक दिन मैंने रिया को मिलने के लिए बुलाया.
वह तुरंत मान गई.
मैंने कहा- बाहर मिलते हैं.

मैं अहमदाबाद में रहता हूँ, वह भड़ूच में रहती है।
200 किलोमीटर की दूरी, 4 घंटे का रास्ता।

बातों ही बात में मैंने उससे सेक्स के बारे में भी पूछ लिया लेकिन उसने मना कर दिया.
उसने सिर्फ एक ही रट लगा रखी थी कि सेक्स शादी के बाद करेंगे.

मैंने टालने के लिए कहा- ठीक है तो तुम या जाओ मिलने!
वह बोली- मैं नहीं या सकती। तुम आ जाओ।

तब मैंने उससे कहा- अगर मैं आऊंगा तो जो मैं चाहूंगा वो करूंगा.
उसे मेरी बात हल्के में ले ली और उसने हां कर दिया.
पर कहीं न कहीं हम दोनों सेक्स के लिए भूखे थे.

रिया ने बोला- क्या तुम कल रात मेरे घर पर 11:30 बजे आ सकते हो?
मैंने बिना देर किए उसे हां कह दिया और उसके घर का एड्रेस मांग लिया.

इसके बाद मैंने अपने फ्रेंड अजय को इस बारे बताया.
अजय ने कहा- जाओ मिल लो, साथ में कॉन्डम लेते जाना.
मैंने कहा- बिल्कुल!

फिर मैं पूरी तैयारी के साथ उसके शहर पहुंचा.
रात के 11.30 बजे मैं उसके घर के बाहर जा पहुंचा.

वह मुझे लेने बाहर आ गई और घर के अंदर किया.
मैं उसके रूम में गया और अंदर जाते ही मैंने उसे बांहों में भर लिया.

हम दोनों ने काफी देर तक एक दूसरे को गले लगाया रखा.
फिर 5 मिनट बाद हम एक दूसरे को किस करने लगे.

फिर मैंने अपना एक हाथ उसके टॉप के अंदर डाल दिया और उसके निप्पल को मसलने लग गया.

अब शायद वो गर्म हो चुकी थी।
तो मैंने मौका पाते ही अपने दूसरे हाथ से उसका लहंगा ऊपर उठा दिया और उसकी जांघों पर हाथ से सहलाने लग गया.

अब वह अकड़ने लगी और फिर मैंने जांघों से हाथ हटाकर सीधा उसकी पैंटी में डाल दिया और उसकी चूत पर लगा दिया.

मैंने महसूस किया कि उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया है.
फिर मैंने उसकी पैंटी से अपना हाथ निकला और उसे टॉप उतारने को कहा.

अब वह मेरे सामने काले रंग की ब्रा में थी।

फिर मैंने उसे लहंगा उतारने को कहा तो उसने वो भी उतार दिया.
अब वह मेरे सामने ब्रा और पैंटी में थी.

मैंने जाकर कमरे की लाइट जला दी।
तो उसने शर्म से चादर से खुद को ढक लिया और बोली- लाइट बंद कर दो प्लीज!
तब मैंने कहा- शरमाओ नहीं, यहां पर सिर्फ हम दोनों ही तो हैं.

लेकिन अचानक ही उसने मुझे रोका और बोली- पहले मेरी मांग सिंदूर से भरो.
मैंने कहा- बाद में ये सब कुछ कर दूंगा. अभी तुम इसका लुत्फ उठाओ.

वह पूरी गर्म हो गई थी तो मेरी बात को मान गई और मेरा साथ देने लगी.

एक बार फिर मैंने उसके बूब्स को मसलना शुरू कर दिया और उसके एक निप्पल को मुंह में लिया तो दूसरे को दबाने लगा.

मैंने उस पर झपट्टा मारते हुए उसे बेड पर पटक दिया और जानवरों की तरह उस पर टूट पड़ा और उसे किस करने लगा.

वह भी मेरा साथ देने लग गई और मुझे किस करने लग गई.

फिर मैंने उसकी पैंटी और ब्रा उतारकर फेंक दी.
अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी हो गई.

फिर मैंने अपने हाथ की एक उंगली उसकी चूत में डाली और उसे हिलाने लगा.
अब वह सिसकारियां लेने लग गई.

अब बारी थी उसकी चूत चाटने की.
मैंने जैसे ही अपनी जीभ उसकी चूत पर रखी तो वह छटपटाने लग गई.

अब इधर मेरा भी लन्ड फटा जा रहा था तो मैंने जल्दी ही अपने सारे कपड़े उतारने शुरू कर दिए.
कुछ पलों में मैं उसके सामने नंगा खड़ा हो गया.

वह मेरा 6 इंच लम्बा लन्ड देखकर डर गई और बोली- मैं तो मर जाऊंगी, इतना बड़ा नहीं ले पाऊंगी.
मैंने कहा- आराम से करूंगा!
वह बोली- ठीक है।

मैंने उसको अपना लन्ड मुंह में लेने को कहा तो वह मना करने लगी.
मेरे एक-दो बार कहने से वह मान गई और मेरा लन्ड मुंह में लेकर चूसने लगी.

अब मुझे मजा आने लगा.

फिर हम 69 की पोजिशन में आ गए.

मैं उसकी चूत को चाटने लगा।
अब वह झड़ने वाली थी तो बोली- मेरा छूटने वाला है.

मैंने चाटने की स्पीड बढ़ा दी और कुछ पलों में वो झड़ गई।
उसका सारा पानी बिस्तर पर गिर गया.

फिर मैंने उसके बूब्स को चूसना शुरू कर दिया।
वह फिर से गर्म होने लग गई.
अब वह शायद चुदने को तैयार थी।

तो मैंने भी देर ना करते हुए अपने लन्ड पर क्रीम लगा कर उसकी चूत पर टिका दिया.
अब मेरे लन्ड का सुपारा उसकी चूत के छेद से लग गया.

मैंने कहा- थोड़ा दर्द होगा लेकिन बाद में मजा आएगा.
वह बोली- ठीक है!

और मैंने एक जोर का धक्का मारा और मेरा सुपारा उसकी चूत में चला गया.

अब वह चीखने लगी और कहने लगी- इसको बाहर निकालो, मुझे दर्द हो रहा है.
लेकिन मैं कहां मानने वाला था … मैंने एक और धक्का मारा।

इस बार मेरा 6 इंच लंबा लन्ड उसकी चूत को फाड़ता हुआ सीधे अंदर चला गया।
और वह रोने लगी.
वह बिल्कुल कुंवारी थी.

अब मैंने धक्के देना शुरू कर दिए और फिर उसकी आंखों से आँसू निकलने लगे.
वह मुझे मना करने लग गई तो मैं थोड़े टाइम रुक गया.

लेकिन मैंने अपना लन्ड उसकी चूत से बाहर नहीं निकाला.
साथ ही साथ मैं उसके बूब्स दबा दबाकर चूसने लगा.

थोड़े टाइम में उसको अच्छा लगने लगा तो मैंने फिर से धक्के देना शुरू कर दिया.
अब शायद उसको भी मजा आने लगा और वो मुझे अपनी गांड उठा कर देने लगी.

मैंने भी धक्के की स्पीड तेज कर दी और मैं जोर जोर से करने लग गया.
मेरे लगातार धक्के लगाने के कारण वो झड़ चुकी थी.

अब मैंने अपना लन्ड उसकी चूत से निकाला और उसे घोड़ी बनने को कहा.
फिर मैं उसको पीछे से चोदने लग गया.

10 मिनट चुदने के बाद वह फिर से झड़ गई.

फिर मैंने उसे सीधा लिटाया और उसकी गांड के नीचे एक तकिया लगा कर उसकी चूत को ऊपर की तरफ उठा दिया.

फिर मैंने उसके दोनों पैर अपने कंधों पर रखे और सामने से उसे चोदने लगा.
वह Xxx कॉलेज गर्ल सेक्स का मजा लेती हुई मुझसे कहने लगी- आह … जल्दी करो … मजा आज रहा है. तेज-तेज करो!

और अपने होठों को दांतो से दबाने लगी.

अब मैं उसके ऊपर चढ़ चुका था और जोरदार धक्कों से कमरे से फट फट की आवाजें आ रही थी.
इधर रिया भी बोल रही थी- फाड़ दो आज मेरी चूत को मेरे राजा … आह आह!

मैंने भी स्पीड बनाए रखी और कुछ टाइम बाद उसने मुझे कस कर पकड़ लिया और झड़ गई.

रिया अब तक 3 बार झड़ चुकी थी.
अब बारी मेरी थी इसलिए मैं भी दम लगाकर धक्के मारता रहा.

फिर मैंने कहा- मेरा होने वाला है!
तो वह बोली- मेरे बूब्स पर अपना पानी डाल दो.

मैंने भी झट से अपना लन्ड उसकी चूत से निकाला और उसके बूब्स पर झाड़ दिया.

अब वह मेरा लन्ड मुंह में लेकर चूसने लगी जिससे मेरा लन्ड फिर से खड़ा हो गया.
फिर मैंने कहा- अब मैं तुम्हें नए तरीके से चोदूँगा.
वह बोली- ठीक है.

फिर मैंने उसके दोनों पैर उसकी ब्रा से बांधे और अपना मुंह उसकी चूत में फंसा दिया.
उस Xxx कॉलेज गर्ल की गुलाबी चूत मेरे सामने थी.

फिर मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया और फिर से उसकी चूत में अपना लन्ड डाल दिया.
उस रात मैंने रिया को लगातार तीन बार चोदा.

अब मुझे भी थकान सी महसूस होने लगी और फिर हम दोनों नंगे ही बेड पर सो गए.

मैंने फोन में 3 बजे का अलार्म लगा रखा था.
अलार्म बजने पर मैं उठा और अहमदाबाद के लिए रवाना हो गया.

अब रिया मेरे प्यार में थी.
मैं हर महीने उसे दो से तीन बार चोदने जाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Top